मंगलवार, 15 जून 2010

पी.एम्.ऑफिस में आने वाले पत्र-पत्रिकाएं....

3 टिप्पणियाँ:

indli ने कहा…

नमस्ते,

आपका बलोग पढकर अच्चा लगा । आपके चिट्ठों को इंडलि में शामिल करने से अन्य कयी चिट्ठाकारों के सम्पर्क में आने की सम्भावना ज़्यादा हैं । एक बार इंडलि देखने से आपको भी यकीन हो जायेगा ।

डॉ० कुमारेन्द्र सिंह सेंगर ने कहा…

जानकारी अच्छी किन्तु दुखी करने वाली है.....हिंदी के पत्र पत्रिकाओं की संख्या????
जय हिन्द, जय बुन्देलखण्ड

sanu shukla ने कहा…

jankari ke liye dhanywad



iisanuii.blogspot.com